Sunday, August 14, 2022
होम सबरंग

सबरंग

रिश्तों में निवेश कीजिए

संजय सिन्हा, संपादक, आजतक : 

चार साल पहले भी मेरा नाम संजय सिन्हा था। लेकिन तब मैं संजय सिन्हा की जिंदगी जीता था। 

रिश्तों के बारे में आत्ममंथन करें

संजय सिन्हा, संपादक, आजतक : 

मुझे अपने परिचित से पूछना ही नहीं चाहिए था कि तुम्हारी मौसी कहाँ चली गईं? मैंने पूछ कर बहुत बड़ी गलती की और उस गलती का खामियाजा ये है कि आज कुछ लिखने का मन ही नहीं कर रहा है। रात भर सोने का उपक्रम करता रहा, करवटें बदलता रहा। फिर लगा कि आपसे इस बात को साझा कर लूं, शायद मेरा दुख थोड़ा कम हो जाए। 

हाँ, अकबर नाम है मेरा… शहंशाह गुजरे जमाने का…

विद्युत प्रकाश मौर्य, वरिष्ठ पत्रकार:  

धुआं उड़ाती सिटी बजाती रेलगाड़ियां अब इतिहास हो चुकी हैं। या तो फिल्मों में देखा होगा आपने या बुजुर्गों से सुना होगा। हरियाणा के रेवाड़ी के स्टीम शेड में कुल 10 स्टीम लोकोमोटिव देखे जा सकते हैं। इसमें कुछ चालू हालत में हैं। इनमें से एक है अकबर। शान से खड़ा यह विशाल स्टीम लोकोमोटिव जैसे आपसे कह रहा हो अकबर नाम है मेरा...

फेयरी क्वीन से एक मुलाकात

विद्युत प्रकाश मौर्य, वरिष्ठ पत्रकार:  

दिल्ली से रेवाड़ी। हरियाणा का शहर। दूरी 80 किलोमीटर। पहचान स्टीम लोकोमोटिव का सुंदर संग्रहालय। रेलवे के इतिहास में रुचि रखने वालों के लिए रेवाड़ी के स्टीम लोकोमोटिव संग्रहालय की यात्रा जरूरी है।

जल संरक्षण का अदभुत नमूना – अग्रसेन की बावड़ी

विद्युत प्रकाश मौर्य, वरिष्ठ पत्रकार:  

राजधानी दिल्ली के भूली बिसरे दर्शनीय स्थलों में से एक है अग्रसेन की बावली। उक लोग इसे उग्रसेन की बावली भी कहते हैं। बावली मतलब बावड़ी यानी जल संग्रह का अनूठा तरीका।

उत्तराखंड आंदोलन और रामपुर तिराहा गोली कांड के शहीद

विद्युत प्रकाश मौर्य, वरिष्ठ पत्रकार:  

दिल्ली से सहारनपुर जाने के लिए देहरादून वाली बस में बैठता हूँ। कंडक्टर महोदय ने कहा कि बस मुजफ्फरनगर बाईपास से होकर जायेगी। आप रामपुर तिराहे पर उतर जाना।

लजीज खोवा का रामदाना और खाजा

विद्युत प्रकाश मौर्य, वरिष्ठ पत्रकार:  

अगर आप बिहार गये हैं और सिलाव का प्रसिद्ध खाजा खाने की इच्छा है और सिलाव नहीं जा सकते तो कोई बात नहीं। कभी पटना के म्यूजिम रोड पर पहुंचिए। यहाँ पर संग्रहालय के सामने खाजा की कई दुकानें एक साथ दिखाई देंगी।

दक्षिणेश्वर की काली और बेलुर मठ

विद्युत प्रकाश मौर्य, वरिष्ठ पत्रकार:  

कोलकाता के काली घाट में माँ काली का प्रचीन मंदिर है तो शहर के उत्तरी हिस्से दक्षिणेश्वर में माँ काली का भव्य मंदिर है। स्वामी विवेकानंद के गुरू रामकृष्ण परमहंस इस मंदिर में माँ काली की उपासना किया करते थे।

सन 42 की क्रांति और पटना के वे सात शहीद

विद्युत प्रकाश मौर्य, वरिष्ठ पत्रकार:  

स्वतंत्रता आंदोलन के इतिहास में युवाओं के जोश को जब जब याद किया जाएगा तब तब पटना के उन सात शहीदों के बिना चर्चा अधूरी रहेगी।

अगर…

संजय सिन्हा, संपादक, आजतक : 

मेरी कहानियाँ आप अपने बच्चों को भी सुनाते हैं न?

विरासत – पूर्व मध्य रेलवे मुख्यालय में दो लोकोमोटिव

विद्युत प्रकाश मौर्य, वरिष्ठ पत्रकार:  

हाजीपुर में पूर्व मध्य रेलवे का मुख्यालय है। यह एक नया जोन है। शहर के रामाशीष चौक पर इसका मुख्यालय बना है। मुख्यालय के अंदर दो स्टीम लोकोमोटिव को लोगों के दर्शन के लिए लगाया गया है।

शिलांग से दिल्ली वाया गुवाहाटी

विद्युत प्रकाश मौर्य, वरिष्ठ पत्रकार:  

शिलांग में दूसरे दिन गैरोटो चेपल चर्च, लेडी हैदरी पार्क और एयरफोर्स म्युजिम देख लेने के बाद अनादि और माधवी को भूख लग गई थी। सुबह का नास्ता तो हमने होटल के पास पूरी सब्जी वाले के पास कर लिया था।

- Advertisment -

Most Read

शमशेरा : हिंदू घृणा और वामपंथी एजेंडा से भरी फिल्म को दर्शकों ने नकार दिया

शमशेरा हिंदू घृणा से सनी ऐसी फिल्म है, जिसका साहित्य में परीक्षण हुआ, जैसा कि फर्स्ट पोस्ट आदि पर आयी समीक्षाओं से पता चलता है, और फिर बाद में परदे पर उतारा गया। परंतु जैसे साहित्य में फर्जी विमर्श को रद्दी में फेंक कर जनता ने नरेंद्र कोहली को सिरमौर चुना था, वैसे ही अब उसने आरआरआर एवं कश्मीर फाइल्स जैसी फिल्मों को चुन लिया है और शमशेरा को गड्ढे में फेंक दिया है!

नेशनल हेराल्ड मामले का फैसला आ सकता है लोकसभा चुनाव से पहले

ईडी ने तो एक तरह से मामले को छोड़ दिया था। ईडी की पकड़ में यह मामला तब आया, जब कोलकाता में हवाला कारोबार करने वाली एक शेल कंपनी के यहाँ एजेएल और यंग इंडिया की हवाला लेन-देन की प्रविष्टि (एंट्री) मिली, और उसके तार ईडी की जाँच में गांधी परिवार तक गये। इसलिए गांधी परिवार से पूछताछ के बिना चार्जशीट दाखिल नहीं हो सकती है। राहुल गांधी और मल्लिकार्जुन खड़गे से पूछताछ हो चुकी है और अब सोनिया गांधी से पूछताछ हो रही है।

पाकिस्तान में बढ़ती शर्मनाक घटनाएँ, फिर भी पश्चिमी देशों का दुलारा पाकिस्तान

अमेरिका की एक व्लॉगर पाकिस्तान में विषय में वीडियो बनाती थी। उसके साथ सामूहिक बलात्कार हुआ है और बलात्कार करने वाले उसके अपने वही दो दोस्त हैं, जिनके बुलावे पर वह पाकिस्तान आयी।

लिबरल खेमा वैश्विक उथल-पुथल से प्रफुल्लित क्यों है?

उनके हर्ष का विषय तीन वैश्विक घटनाएँ हैं। पहली है यूके के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन का इस्तीफा, दूसरी घटना है जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की हत्या और तीसरी सबसे महत्वपूर्ण घटना है श्रीलंका का दीवालिया होना और राष्ट्रपति आवास पर आम जनता का नियंत्रण होना!
Cart
  • No products in the cart.