इसको कहीं देखा है

0
91

काफी देर सोचते-सोचते वह बोल पड़ा – धत्त तेरे की। यह तो वही है जो उस दिन मेरे साथ बाल कटवा रहा था। 🙂

 

(ये चुटकुले सुने-सुनाये या सोशल मीडिया पर प्रचलित हो सकते हैं। इनका उद्देश्य शुद्ध रूप से हास्य-व्यंग्य है।)