पाकिस्तान में बढ़ती शर्मनाक घटनाएँ, फिर भी पश्चिमी देशों का दुलारा पाकिस्तान

0
101
US vlogger gang-raped in Pakistan

अमेरिका की एक व्लॉगर पाकिस्तान में विषय में वीडियो बनाती थी। उसके साथ सामूहिक बलात्कार हुआ है और बलात्कार करने वाले उसके अपने वही दो दोस्त हैं, जिनके बुलावे पर वह पाकिस्तान आयी।

पश्चिमी देशों और विशेष कर अमेरिका का पाकिस्तान के प्रति प्रेम कोई छिपा रहस्य नहीं है और वे पाकिस्तान को सकारात्मक रूप से प्रस्तुत करने के लिए प्रयास भी करते हैं। और ट्विटर पर एक यूजर ने लिखा भी है कि अमेरिका में तीन सफल करियर हैं – या तो डॉक्टर, या वकील या फिर व्लॉगर बन कर पाकिस्तान चले जाओ!

परंतु कभी-कभी यह सदाशयता भारी भी पड़ जाती है, वह भी उस देश में जहाँ पर एक प्रांत विशेष में बलात्कार को लेकर आपातकाल ही घोषित कर दिया गया है। जहाँ पर यूनिसेफ की एक अधिकारी का बलात्कार उनके सुरक्षा गार्ड ने ही अभी जून माह में कर दिया था, ऐसे देश में महिलाओं के प्रति मानसिकता की कल्पना ही की जा सकती है। यूनिसेफ की अधिकारी के साथ जिसने यह कुकृत्य किया, उसकी नियुक्ति उनकी सुरक्षा के लिए ही की गयी थी। रोज ही मीडिया में ऐसी घटनाएँ आती रहती हैं,

गैर-मुस्लिम और शिया समुदाय की लड़कियों के अपहरण और जबरन निकाह के किस्सों से पकिस्तान का मीडिया भरा रहता है, फिर भी दुर्भाग्य का विषय यही है कि अमेरिका में पकिस्तान के प्रति जो नरम कोना (सॉफ्ट कॉर्नर) है, उसके चलते भारत को ही वह तमाम प्रकार की नसीहतें देता दिखाई देता है।

अमेरिकी व्लॉगर युवती से पाकिस्तान में बलात्कार

अमेरिका की ऐसी ही एक व्लॉगर पाकिस्तान में विषय में वीडियो बनाती थी। उसके साथ सामूहिक बलात्कार हुआ है और बलात्कार करने वाले उसके अपने वही दो दोस्त हैं, जिनके बुलावे पर वह पाकिस्तान आयी।

मीडिया के अनुसार सामूहिक बलात्कार की यह घटना 17 जुलाई को पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में हुई। यह वही पंजाब है, जहाँ बलात्कार को लेकर आपातकाल लगाया गया है। डेरा गाजी खान के डिप्टी कमिश्नर अनवर बरियार के अनुसार अमेरिकी युवती पर्यटक (टूरिस्ट) वीजा पर पाकिस्तान आयी थी, और वह पिछले लगभग सात महीनों से पाकिस्तान में ही थी। सोशल मीडिया पर उसके कुछ दोस्त बने थे और वह उनके ही बुलावे पर फोर्ट मोनोर पहुँची थी। मुजमल सिपरा का घर पंजाब के राजनपुर में है, जो लाहौर से लगभग 550 किलोमीटर की दूरी पर है। यह भी कहा जा रहा है कि वह युवती मुजमल के घर भी गयी थी।

इस 21 वर्षीय अमेरिकी युवती ने एफआईआर में यह बताया कि वे लोग फोर्ट मोनोर में एक होटल में रुके थे और वहीं पर उन दोनों ने उसके साथ बलात्कार किया। उस युवती ने यह भी एफआईआर में लिखवाया कि मुजमल ने उसे धमकी दी थी कि यदि वह उनकी शिकायत लेकर पुलिस के पास गयी तो परिणाम बहुत बुरा होगा। उन्होंने उसका वीडियो भी बनाया, जिससे ब्लैकमेल किया जा सके।

सोशल मीडिया पर हो रहा है विरोध

इस बात को लेकर पकिस्तान में सोशल मीडिया में इस घटना के विषय में विरोध हो रहा है, और लोग कह रहे हैं कि यह बहुत ही शर्मिंदा करने वाला विषय है, क्योंकि वह यहाँ के लोगों की सकारात्मक छवि दिखाने आयी थी और, उसका बलात्कार कर दिया गया। यूजर कह रहे हैं कि हम आखिर कब दुनिया को दिखेंगे कि हम पढ़े लिखे लोग हैं? लोग कह रहे हैं कि यह पाकिस्तान के लिए शर्मनाक दिन है।

परंतु यह सब तो पाकिस्तान ने तब भी कहा था जब श्रीलंका के एक नागरिक की कुरआन की बेअदबी के नाम पर पीट-पीट कर हत्या कर दी गयी गयी और लाश में या फिर कहें आधी बेहोशी की स्थिति में ही उसे आग लगा दी गयी थी।

पाकिस्तान में ऐसी घटनाएँ लगातार बढ़ रही हैं और अमेरिका में बैठे हुए लोग पाकिस्तान के स्थान पर भारत को उपदेश देते रहते हैं!

(देश मंथन, 24 जुलाई 2022)

देखें देश मंथन पर सोनाली मिश्र के अन्य आलेख।

आर्थिक और शेयर बाजार की खबरों के लिए देखें शेयर मंथन

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें