Sunday, January 24, 2021
होम सुख-साधन

सुख-साधन

शियोमी रेडमी 4जी नोट, देखा क्या?

देश मंथन डेस्क :

चीनी स्मार्टफोन कंपनी शियोमी लेकर आयी है फोर्थ जनरेशन बेस्ड स्मार्टफोन। जी हाँ, रेडमी नोट 4जी नाम से भातीय बाजार में लाँच यह फोन सुपरहिट हो रही है।

डाक खाताधारकों को भी अब मिलेगा एटीएम कॉर्ड!

देश मंथन डेस्क :

क्या आपका भी भारतीय डाक विभाग में बचत खाता है? अगर हाँ तो जल्द ही डाक विभाग भी एटीएम सुविधा देने जा रही है। यानी अब डाक खाताधारी भी एटीएम सुविधा का लाभ उठा सकेंगे और उन्हें डाक में जमा पैसा निकालने के लिए डाकघरों के चक्कर लगाने नहीं लगाने होंगे।

एयरटेल पर इंटरनेट वॉयस कॉल हुआ 16 गुना महँगा

देश मंथन डेस्क :

क्या आप भी एयरटेल यूजर्स हैं और आप भी इंटरनेट वॉयस कॉल के जरिए दोस्तों से बाते करते हैं? तो सावधान हो जाईये, क्योंकि एयरटेल ने स्मार्टफोन एप्स लाइन, बाइवर और स्काईप के जरिए वॉयस कॉल के डॉटा चार्ज में 16 गुणा से अधिक वृद्धि की घोषणा की है। 

अब 5KG रसोई सिलेंडर भी सब्सीडाईज्ड!

देश मंथन डेस्क :

सरकार अब प्रवासी शहरी LPG उपभोक्ताओं पर भी मेहरबान हो गयी है। पेट्रोलियम मंत्रालय 14.2 KG रसोई गैस सिलेंडर के साथ-साथ अब 5KG सिलेंडर भी सब्सीडाईज्ड (रियायती) दरों पर बेचेगी। यानी अब दिल्ली-मुंबई जैसे शहरी प्रवासियों को अब 5KG रसाई गैस सिलेंडर रियायती भाव पर 155 रुपये बाजार भाव पर 351 रुपये चुकाने होंगे।

अब ऑनलाइन खरीदें खेती-किसानी से जुड़े सामान भी

देश मंथन डेस्क :

ऑनलाइन रिटेल बाजार की अग्रणी कंपनी स्नैपडील अब खेती-किसानी से जुड़े लोगों के लिए 'द एग्री स्टोर' शुरू करने जा रही है, जहाँ खेती-किसानी से जुड़े लोग अब कृषि से जुड़़ी सामग्री भी आसानी से खरीद सकेंगे।

11 हजार में ऑनलाइन बुक करायें टाटा बोल्ट

देश मंथन डेस्क :

आधुनिक फीचरों से लैश टाटा मोटर्स की नयी हैचबैक कार टाटा बोल्ट जल्द ही सड़कों पर दौड़ने को तैयार है। फिलहाल कंपनी ने इसकी ऑनलाइन बुकिंग शुरू कर दी है, जिसकी बुकिंग के लिए आपको चुकाने होंगे महज 11, 000 रुपये। बोल्ट की कीमत 4-5 लाख रुपये तक हो सकती है।

‘रुपे कार्ड’ पर भी बीमा दुर्घटना का लाभ!

देश मंथन डेस्क :

प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत एक लाख रुपये के दुर्घटना बीमा का लाभ 'रुपे कार्ड' पर संभव है, लेकिन डेढ़ माह में एक बार रुपे कार्ड का इस्तेमाल जरूरी है।

पूरे 12 घंटे ट्रांसफर हो सकेंगे ऑनलाइन फंड!

देश मंथन डेस्क :

अब रात के 8 बजे भी सैलरी एकाउंट में फंड ट्रांसफर की घंटी बजे तो चौंकियेगा नहीं, क्योंकि रिजर्व बैंक ने ऑनलाइन फंड ट्रांसफर सुविधा की अवधि को बढ़ा दिया है। यानी अब ऑनलाइन बैंकिंग के जरिये पूरे 12 घंटे आप फंड ट्रांसफर कर सकेंगे।

क्या आप भी हैं स्मार्टफोन के दीवाने?

देश मंथन डेस्क :

भारतीय मोबाइल उपभोक्ताओं में भले ही अभी भी बेसिक मोबाइल फोन अधिक प्रचलित हो, लेकिन ताजा आंकड़े बताते हैं कि दुनिया भर के 57% स्मार्टफोन उपभोक्ताओं का मानना है कि वे स्मार्टफोन के बिना रह ही नहीं सकते। एक सर्वेक्षण के मुताबिक 3 में से 1 व्यक्ति स्मार्टफोन के लिए एक सप्ताह तक टेलीविजन देखना छोड़ सकते हैं।

माइक्रोमैक्स (Micromax) : बोल्ट एडी 4500 (Bolt AD 4500) स्मार्टफोन बाजार में

माइक्रोमैक्स (Micromax) ने बोल्ट (Bolt) सीरीज में एंड्रॉयड स्मार्टफोन पेश किया है। 

हार्ले डेविडसन (Harley Davidson) ने नयी मोटरसाइकिलें बाजार में उतारी

मोटरसाइकिल निर्माता कंपनी हार्ले डेविडसन (Harley Davidson) ने भारतीय बाजार में तीन नयी मोटरसाइकिलें उतारी हैं।

मारुति सुजुकी (Maruti Suzuki) ने सियाज (Ciaz) भारत में उतारी

मारुति सुजुकी (Maruti Suzuki) ने सेडान (Cedan) श्रेणी में अपनी बहुप्रतीक्षित कार पेश की है।

- Advertisment -

Most Read

बिहार चुनाव में क्या फिर पलटी मारेंगे उपेंद्र कुशवाहा?

संदीप त्रिपाठी : 

बिहार विधानसभा चुनाव से पूर्व महागठबंधन में नया घमासान शुरू हो गया है। महागठबंधन में राजद नेता तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री पद के चेहरे के रूप में पेश किये जाने पर महागठबंधन के दो सहयोगी दलों - राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) और विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) ने आवाज उठायी है। 

महागठबंधन से मुकाबले से पूर्व एनडीए में अंदरूनी घमासान

संदीप त्रिपाठी : 

बिहार विधानसभा चुनाव के मद्देनजर एनडीए में जबरदस्त रार मची हुई है। बिहार में एनडीए में कुल चार दल भाजपा, जदयू, लोजपा और हम (हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा) हैं।

बिहार में महागठबंधन की छोटी पार्टियों की बड़बोली माँगें

संदीप त्रिपाठी

बिहार विधानसभा चुनाव में महागठबंधन में सीटों के बंटवारे पर सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। दरअसल पिछले चुनाव में महागठबंधन का हिस्सा बन कर लड़ने वाली जदयू के गठबंधन से निकल जाने के बाद अब शेष बड़े दल राजद और कांग्रेस इस बार ज्यादा-से-ज्यादा सीटें अपने पास रखने के पक्ष में हैं।

कोरोना की लड़ाई तो हम तभी हार गये थे जब…

राजीव रंजन झा : 

कोरोना की श्रृंखला तोड़ने की लड़ाई हम उसी दिन हार गये थे, जब दिल्ली में हजारों-लाखों मजदूरों की भीड़ को उत्तर प्रदेश की बस चलने के नाम पर आनंद विहार में जुटा दिया गया था।