चुनाव के बाद सोशल मीडिया पर हास परिहास का दौर

0
224

लोक सभा चुनाव के बाद सोशल मीडिया पर हास परिहास भी चरम पर है। एक से बढ़ कर एक मजाकिया टिप्पणियाँ फैल रही हैं। इनमें से किस टिप्पणी या चुटकुले को सबसे पहले किसने लिखा, यह खोज पाना तो संभव नहीं लगता।

लेकिन ये लगातार फैलती जा रही हैं, इसमें कोई शक नहीं। ऐसी ही कुछ टिप्पणियों को हमने इकट्ठा किया है, आप भी इनका मजा लें!

****

लगता है कांग्रेस हम दो हमारे दो के सिद्धांत को संजीदगी से लागू कर रही है। उत्तर प्रदेश में दो। बिहार, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ का भी यही हाल।

****

मनमोहन सिंह की पत्नी सोनिया के घर पहुँची, रिमोट कंट्रोल वापस लेने के लिए!

****

ब्रेकिंग न्यूज : अब पाकिस्तान ने कहा – नहीं चाहिए कश्मीर, बस हमारा कराची बचा रहे।

****

राहुल गांधी जहाँ भी हैं घर वापस आ जाएँ। माँ बहुत परेशान है। हार की जिम्मेदारी मनमोहन अंकल ने ले ली है।

****

नरेंद्र मोदी पीएम बनने के बाद पीएमओ के ट्वीटर अकाउंट का पासवर्ड सोनिया123 से मोदी1 करेंगे।

****

अब तो पीएम मनमोहन सिंह के पास वक्त ही वक्त होगा, अनुराग बसु उनसे बर्फी 2 में काम करवा सकते हैं।

****

विधानसभा चुनाव में मेरा वोट ले के भाग जाने वालों को दिल्ली की जनता ने माफ नहीं किया! मैने कहा ही था, जनता माफ नहीं करेगी!

****

चूँकि हेमा मालिनी जीत गयी हैं, अब तो नल में केंट आरओ का पानी आयेगा!!

****

वाह रे मोदी, यह क्या कर डाला! अब तक सरकारें गठबंधन से बनती थीं, अब विपक्ष गठबंधन से बनेगा!

****

बसपा सुप्रीमो मायावती काफी अग्रसोची हैं। उन्‍हें चुनाव परिणाम के बारे में पहले ही आभास हो गया था, तभी तो उन्‍होंने कहा था कि किसी भी कीमत पर भाजपा को समर्थन नहीं….!

****

प्रकृति का उलटफेर देखिए, पहले प्रधानमंत्री ‘मौन’ थे, अब ‘नमो’ होंगे!

****

अब केजरीवाल आराम से दावा कर सकते हैं कि उनकी कोई औकात नहीं है…!!!

****

केजरीवाल जी 500 रुपये लेकर वाराणसी गये थे, इसमें उन्होंने चुनाव प्रचार किया, फिर वापस आने के लिए हवाई जहाज का टिकट लिया। बहुत कम लोगों को पता है कि अभी भी उनके पास 420 रुपये बचे हैं, जो उन्होंने बराक ओबामा को हराने के लिए बचा के रखे हैं!

****

मोदी : चुनाव ख़त्म हो गये हैं, चल मजे लेते हैं।

शाह : कैसे?

मोदी : मायावती को फोन लगा, समर्थन देगी या नहीं?

****

मुलायम डिम्पल यादव से बोले – डिम्पल चाय बना लो, धर्मेंद्र और अक्षय आये हैं। संसदीय बोर्ड की बैठक करनी है।

****

आडवानी (भारी मन से) : हमें इस बात पर चर्चा करनी चाहिए कि हमारी इतनी सीटें कैसे आ गयीं!

****

भारत भी अजीब देश है। यहाँ 10 साल से सरकार नहीं थी, अब विपक्ष नहीं है।

****

जितने कांग्रेसी सीधे नहीं जीत पाये, उससे ज्यादा कांग्रेस से भाजपा में आये और जीत गये।

****

इन मजाकिया टिप्पणियों को केवल हास्य-व्यंग्य के लिए प्रस्तुत किया गया है, किसी की खिल्ली उड़ाने के लिए नहीं। 

(देश मंथन, 19 मई 2014)

 

 

 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें